“ट्रकिंग ने मुझे अपना मालिक खुद बनने का मौका दिया”

गुरबिंदर हेयर

आनर-आपरेटर, अरश गिल ट्रकिंग

डेल्टा, ब्रिटिश कोलंबिया

गुरबिंदर हेयर

हमें अपनी नौकरी के बारे में बताएं और इसमें किए जाने वाले कार्य में क्या शामिल है?

मैं वैंकूवर, बी.सी. के पोर्ट ट्रकिंग उद्योग में एक आनर-आपरेटर हूं। मैं ज्यादातर वैंकूवर और डेल्टा पोर्ट्स में काम करता हूं। मेरा काम सुबह 4 बजे शुरू होता है, मैं ग्राहकों तक भरे और खाली कंटेनरों को डिलीवर करता हूं और वापस आता हूं। इसमें विभिन्न प्रकार के कंटेनर, रीफर और ड्राई वैन शामिल हैं।

आप ट्रकिंग उद्योग में कैसे आए?

ट्रकिंग उद्योग में आने से पहले, मैं एक गोदाम में काम करता था। मेरा एक मित्र पोर्ट पर काम करता है और अपना खुद का ट्रक चलाता है। उसने ही मुझे यह काम करने के लिए प्रोत्साहित किया। वह अच्छा पैसा कमाता है और अपने काम के घंटे खुद तय करता है। मैंने अपनी नौकरी बदलने का मन बना लिया और एक गोदाम में काम करने वाले से ट्रक आॅनर-ऑपरेटर बनकर और अपना मालिक खुद बनने का मन बना लिया।

आपको अपने काम में सबसे अच्छा क्या लगता है?

मुझे अपना काम पसंद है क्योंकि अन्य काम से आप ट्रकिंग में अधिक पैसा कमाते हैं। और आपके काम करने के घंटे बंधे हुए नहीं हैं और सप्ताहांत की छुट्टी के भी मिलती है, आप अपने खुद के मालिक बन सकते हैं।

ट्रकिंग उद्योग के सामने आज सबसे बड़ी चुनौती क्या है?

ट्रकिंग उद्योग में, पोर्ट ट्रकिंग और लोंग-हॉल ट्रकिंग सहित चुनौतियों की बात करें तो बढ़ते फैडरल कानून, राष्ट्रीय सतर पर ड्राइवरों की कमी, फ्यूल की बढ़ती कीमतें, मुरम्मत की बढ़ती लागत, ट्रकस के लिए उच्च डी.ओ.टी. जुर्माना आदि शामिल है। ग्राहक या डी.ओ.टी. अफसरों के साथ मैत्रीपूर्ण संबंधों की भी कमी है।

आपको क्यों लगता है कि ट्रकिंग उद्योग की प्रशंसा की जानी चाहिए?

ट्रकिंग उद्योग के हर हिस्से को महत्व दिया जाना चाहिए, जिसमें लोंग-हॉल, शार्ट-हॉल, डंप ट्रक, पोर्ट ट्रकिंग आदि शामिल हैं। ट्रकिंग के बिना, कोई भी उत्पाद स्थानांतरित नहीं हो पाएगा। यह किसी भी देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ होती है। उत्तरी अमेरिका में, 40 लाख ट्रक ड्राइवर आवश्यक और गैर-आवश्यक वस्तुओं को पहुंचाने के लिए सड़क पर हैं।