डिसपैच की भूमिका निभाने के लिए संचार कौशल और सहानुभूति महत्वपूर्ण हैं

उत्तर अमेरिकी हाईवेज़ पर अपने गंतव्य की ओर जाने वाले लाखों ट्रकों का नियोजन, निगरानी और समस्या निवारण के लिए बहुत से लोग दिन और रात भर अपने कंप्यूटर स्क्रीन और अपने फोन पर काम करते हैं।

डिस्पैचर्स को ड्राइवरों और ग्राहकों के साथ काम करते हुए ट्रैफिक का ऐसा प्रबंध पूरा करना पड़ता है कि ग्राहकों की सेवा के लक्ष्य पूरें हों। उन्हें यह सुनिश्चित करना पड़ता है कि आपूर्ति श्रृंखला में कोई समस्या न हो।

इस भूमिका को निभाने के लिए उत्कृष्ट संचार कौशल, सहानुभूति और संयम आवश्यक है।

कैम्ब्रिज, ओंटारियो में शार्प ट्रांसपोर्टेशन के डिस्पैच मैनेजर डेवोन टर्नबुल ने कहा कि 10 साल तक ट्रक ड्राइवर के रूप में काम करना उनके लिए डिस्पैचर के रूप में करियर के लिए बहुत फायदेमंद रहा है।

प्राइवेट मोटर ट्रक काउंसिल आफ कैनेडा द्वारा वर्ष के रिक ऑस्टिन मेमोरियल डिस्पैचर पुरस्कार के विजेता टर्नबुल ने कहा, “आप जान जाते हैं कि ड्राइवर पर क्या बीत रही है। जब ड्राइवरों को पता चलता है कि आप भी पहले ड्राइवर रह चुके हैं, तो उनके मन में आपके लिए एक अलग सम्मान होता है।”

ट्रकिंग में कई समस्याएं होती हैं, कभी-कभी रुकना पड़ता है और देरी हो जाती है। बोल्टन, ओंटारियो में ट्राईलिंक लॉजिस्टिक्स में आपरेशन्ज़ प्रबंधक हरप्रीत कौर ने कहा, “ड्राइवर और कंपनी आप पर निर्भर है। आपको ग्राहकों को समय पर अपडेट देते रहना पड़ता है।”

ओंटारियो के मिसिसॉगा में पोलारिस ट्रांसपोर्टेशन के टर्मिनल मैनेजर जेसन रघु ने कहा कि डिस्पैचर्स को छोटी से छोटी जानकारी पर भी ध्यान देना चाहिए। तस्वीरः लीयो बारोस

मिसिसॉगा, ओंटारियो में पोलारिस ट्रांसपोर्टेशन के टर्मिनल मैनेजर जेसन रघु कहते हैं कि करियर के रूप में डिस्पैचिंग को करियर के रूप में अपनाते समय आपको अपने काम का आनंद लेने की आवश्यकता है। रघु ने कहा, “इसमें बहुत तेजी से काम करने की जरूरत है, मुझे गति पसंद है और मुझे चुनौती पसंद है।” उनका कहना है कि यह काम करने के लिए छोटे से छोटे विवरण और संचार की ओर ध्यान देने की बहुत आवश्यकता है।

सेंटेनियल कॉलेज में आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन के एक प्रोफेसर स्टीव बिशप ने कहा कि डिस्पैचर्स को सभी के साथ तथ्यात्मक, विश्वसनीय और ईमानदार होना चाहिए। “संचार इस प्रयास में सफलता की कुंजी है,” उन्होंने कहा। कौशल में सुधार के लिए प्रक्रिया में सुधार के लिए आपको प्रबंधन से संपर्क करने की आवश्यकता है। जब समस्याएँ उत्पन्न होती हैं, तो डिस्पैचर्स को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि ड्राइवर उनके बारे में जानते हैं।

बिशप ने कहा कि सप्लाई चेन मैनेजमेंट कोर्स और कार्यक्रम छात्रों को ट्रांसर्पोटेशन डिस्पैचर बनने और सप्लाई चेन की पूरी जानकारी प्रदान करते हैं।

उन्होंने कहा कि इस कोर्स को करने वाले अधिकांश छात्रों को इस क्षेत्र में कोई अनुभव नहीं है। वे कंपनियों में दाखिला सत्तर के रोल प्राप्त करते हैं और काम करते हुए विकास करते रहते हैं।

2017 में सप्लाई चेन मैनेजमेंट में अपना डिप्लोमा प्राप्त करने वाली कौर अब 75 ट्रकों का प्रबंधन करती हैं। उसने ट्राईलिंक में कुछ घंटों के लिए काम करना शुरू किया, धीरे-धीरे वे डिसपैच करने लग पड़े और अब आपरेशन्ज़ मैनेजर है।

बोल्टन, ओंटारियो में ट्राईलिंक लॉजिस्टिक्स में आपरेशन्ज़ प्रबंधक हरप्रीत कौर का कहना है कि ड्राइवर और कंपनी डिस्पैचर्स पर निर्भर हैं। तस्वीरः लीयो बारोस

कौर कहती हैं, “ड्राइवर कंपनी की संपत्ति हैं, आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि वे खुश हैं और ग्राहकों को खुश रखें।”

शार्प टर्नबुल ने कहा कि वे अपने ड्राइवरों के प्रति सहानुभूति रखते हैं और सभी के लिए समान अवसर पैदा करते हैं।

टर्नबुल ने कहा, “मैं कुछ हद तक दोस्ताना माहौल बनाए रखने की कोशिश करता हूं। कभी-कभी आपको इस बात पर जोर देना पड़ता है कि चीजें ऐसी ही होनी चाहिए। मुझे यहां ऐसा करने की जरूरत नहीं है। ड्राइवर खुशी-खुशी आपकी बात मानता है।”

उन्होंने कहा, “आपको व्यक्तिगत रूप से लोगों को समझने और प्यार करने की ज़रूरत है। हर ड्राइवर की स्थिति अलग होती है, यही आपको समझने की जरूरत है। आप इस ढंग से उन्हें डिसपैच कर सकते हो जो हर किसी के लिए बिहतरीन रहे।”

पोलारिस के रघु ने 10 साल पहले कंपनी के लिए फोर्कलिफ्ट ऑपरेटर के रूप में काम करना शुरू किया और काम करते हुए उन्हें कई पदोन्तियां मिलीं। उन्हें लॉजिस्टिक्स या ट्रांसर्पोटेशन में कोई औपचारिक शिक्षा नहीं है। उन्होंने डिस्पैच, डिस्पैच मैनेजर के रूप में काम किया है और हाल ही में उन्हें टर्मिनल मैनेजर के रूप में पदोन्नत किया गया था। उन्होंने कहा, “काम करते हुए सीखना संभव है, इसलिए इसमें बहुत मेहनत लगती है।”

टर्नबुल का कहना है कि वह कोशिश करते हैं कि उनका काम घर तक न आए, “लेकिन मुझे दिन में लगभग 24 घंटे काम करना पड़ता है।‘‘ वह छुट्टियों के बाद भी अपने कार्यालय का फोन अपने पास रखते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे अपने कर्मचारियों की मदद करने में कोई दिक्कत नहीं है। ड्राइवरों को यह पता है, और वे मुझे तब तक काल नहीं करते जब तक कि बहुत जरूरी न हो।”

ट्राईलिंक की कौर ने कहा कि कभी-कभी वह काम के घंटों के बाहर भी काम के बारे में फोन कॉल सुनते रहते हैं और ई-मेल पढ़ते हैं, और कभी-कभी तो वह समय से पहले ही काम शुरू कर देती हैं।

उन्होंने कहा, “मुझे यह करना पसंद है, इसलिए मुझे इससे कोई समस्या नहीं है। हमारे पास 75 ट्रक हैं और वे हमेशा सड़कों पर दौड़ते रहते हैं। ट्रकिंग में हमेशा समस्यायें रहती हैं।”

तनाव इस काम से जुड़ा एक मुद्दा है।

टर्नबुल ने कहा, “मैं तो इसे तनाव का घर कहता हूं। 45 ट्रक ड्राइवरों को संभालना आसान काम नहीं है। हर कोई दूसरे रास्ते पर जाना चाहता है, लेकिन आपको सभी को शांत रखना होगा। आप जितने शांत होंगे, वे उतने ही शांत रहेंगे।”

“कभी-कभी चीजें हाथ से निकल जाती हैं, लेकिन आपको इसे दिल पर लेने की जरूरत नहीं है। कभी-कभी आप जीत नहीं सकते। आपको केवल अपना सर्वोत्तम काम करते रहना चाहिए।”

टर्नबुल के लिए, ड्रम बजाना तनाव से दूर रहने का एक शानदार तरीका है। जिस बैंड का वे हिस्सा थे वह महामारी के कारण बंद हो गया, लेकिन उनको उम्मीद है कि जब सब कुछ खुल गया तो वह लोगों के सामने अपनी कला का प्रदर्शन करेंगे।

बोल्टन, ओंटारियो में अपने कार्यालय में ट्राईलिंक लॉजिस्टिक्स फ्लीट का डिस्पैच स्टाफ।

कौर का कहना है कि उन्हें नहीं लगता कि काम समाप्त होने के बाद उन्हें तनावमुक्त होने का मौका मिलता है। “मेरा काम हमेशा चलता रहता है। मुझे पता है कि आपको अपने पारिवारिक जीवन और काम को अलग रखना चाहिए। मैं यह सुनिश्चित करती हूं कि कार्यलय से घर आने से पहले यह माहौल शांत हो। कुछ चीजें आपके नियंत्रण में नहीं रहतीं।”

सेंटेनियल कॉलेज के बिशप का कहना है कि तनाव से छुटकारा पाने के लिए काम और जीवन के बीच संतुलन बनाने की जरूरत है, लेकिन इसे हासिल करना बहुत मुश्किल है। उन्होंने कहा, “कुछ भी व्यक्तिगत रूप से न लें, इसे पेशेवर रखें। सुनिश्चित करें कि प्रबंधन आपको काम ठीक तरह से करने के लिए आवश्यक संसाधन प्रदान करता है।”

कोई इस करियर को क्यों चुनेगा? इस बारे में रघु का कहना है, “क्यों नहीं? आपको संतुष्टी मिलती है कि आपने एक अच्छा काम किया है। यह ऐसा काम नहीं है कि आप ऑफिस आए, काम किया और घर गए। यह काम कर आपको लगता है कि आपने कुछ अलग किया है।”

लीयो बारोस द्वारा