वर्सपिटन परिवार ने कैंसर उपचार केंद्र को 30 मिलियन डालर का दान दिया

ट्रकिंग क्षेत्र के प्रमुख रहे एक परिवार ने कैनेडा के पहले क्लिनिकल जीनोम केंद्र को 30 लाख डाॅलर का दान दिया है। इस जीनोम केंद्र में कैंसर और अन्य आनुवंशिक रोगों का इलाज किया जायेगा।

आर्ची वर्सपिटन ने 1953 में 800 डालर के कर्ज के साथ वर्सपिटन कार्टेज की स्थापना की। उन्होंने जो पैसा दान किया, उसका इस्तेमाल लंदन हेल्थ सर्विसेज सेंटर में आर्ची एंड आइरीन वर्सपिटन क्लिनिकल जीनोम सेंटर बनाने में किया जाएगा। उनकी पत्नी और बेटे की कैंसर से मृत्यु हो गई है।

उनके पुत्र रॉन वर्सपिटन ने कहा, ‘‘मैं अपने परिवार के लिए इस दान के महत्व को शब्दों में नहीं बता सकता। मेरा परिवार पिछले कई वर्षों से कैंसर से बुरी तरह प्रभावित है, इसलिए हम इस बीमारी से जुड़े दर्द को जानते हैं।‘‘ वह 14 अक्टूबर को एक वर्चुयल इवेंट में परिवार की ओर से बोल रहे थे।

लंदन हेल्थ साइंसेज फाउंडेशन के अध्यक्ष और सी.ई.ओ. जॉन मैक्फर्लेन ने कहा, ‘‘वर्सपिटन क्लिनिकल जीनोम सेंटर का न केवल हमारे समुदाय, बल्कि दुनिया भर के मरीजों पर भी गहरा असर पड़ेगा जो कई बड़ी बिमारियों से पीड़ित हैं। आर्ची और इरीन की दूरदृष्टि और कैंसर का इलाज खोजने के लिए जुनून है कि यह केंद्र अस्तित्व में आया है।‘‘

जीनोमिक प्रोफाइलिंग के साथ, डॉक्टर मरीज के डी.एन.ए. की जांच करता है। उनके आधार पर व्यक्तिगत रूप से उचित उपचार प्रदान कर सकते हैं। इस तरह से कैंसर, लकवा, न्यूरोमस्कुलर रोग और विकासात्मक विकलांगता को ठीक किया जा सकता है।

वर्सपिटन क्लिनिकल जीनोम सेंटर के वैज्ञानिक और क्लिनिकल निदेशक, डॉ. बेकिम सेडिकोविक ने कहा, ‘‘यह कैनेडा में अपनी तरह की पहली सुविधा है। इसमें जीनोम सेंटर के उन्नत संक्रमणकालीन अनुसंधान क्षमताओं को एक उच्च मानकीकृत और रैगयूलेटर क्लिनिकल डायगनोस्टिक प्रयोगशाला वातावरण के साथ एकीकृत करता है।‘‘

‘‘इससे दक्षिण-पश्चिमी ओंटारियो में कैंसर रोगियों के लिए विश्व स्तरीय मालिक्यूलर जैनेटिक डायगनोस्टिक तक पहुंच और प्रत्येक रोगी के लिए एक अलग दवा विकसित करके उपचार की सुविधा उन्नत होगी। वर्सपिटन क्लिनिकल जीनोम सेंटर रोगी के व्यक्तिगत जीनोम में छिपी जानकारी को उजागर करके रोगी की यात्रा को आसान बना देगा। वर्सपिटन क्लिनिकल जीनोम सेंटर बढ़ रहे अग्नाशय के कैंसर जैसे रोगों को नियंत्रित करने में मदद करेगा। जीनोमिक प्रोफाइलिंग के माध्यम से प्राप्त सूचना से मूल्यवान जानकारी प्रदान होगी जो मरीजों को अभी और भविष्य में मदद करेगी।‘‘

आर्ची वर्सपिटन ने कहा, ‘‘मैं कैनेडा में पहले क्लिनिकल केंद्र का समर्थन करने में सक्षम होने के लिए खुश हूं। मैं अपनी भावनाओं को शब्दों में नहीं ढाल सकता। मेरी पत्नी और मैं कैंसर का इलाज खोजने के लिए बहुत उत्साहित थे, क्योंकि दुर्भाग्य से मेरा परिवार इस घातक बीमारी से बुरी तरह प्रभावित है। कैंसर को खत्म करना मेरी प्राथमिकता है। मुझे उम्मीद है कि यह केंद्र हमें अपनी मंजिल के एक कदम करीब बढ़ाएगा। मुझे उम्मीद है कि आनुवांशिक परीक्षण रोगियों का इलाज करने में मदद करेगा और उन्हें लंबे और खुशहाल जीवन जीने का मौका देगा।‘‘

केंद्र 30 मिलियन डालर के सबसे बड़े उपहार के साथ प्रारंभिक कार्य शुरू करेगा, लेकिन इसकी कुल लागत 10 मिलियन है। अधिक धन जुटाने की प्रक्रिया चल रही है।