ड्राइवर इंक प्रक्रिया को खत्म करने के लिए प्रतिबद्ध है फैडरल सरकार

फैडरल सरकार नियोक्ताओं को अपने कर्मचारियों के साथ इस तरह के गलत तरीके में वर्गीकृत करने से रोकने के लिए कदम उठा रही है जिस से उन को कर्मचारियों के वेतन में कमी या अन्य श्रम जिम्मेदारियों से बचने का मौका मिल जाता है – इस प्रक्रिया को ट्रकिंग इंडस्ट्री में ड्राइवर इंक. के रूप में जाना जाता है।

कनाडाई श्रम संहिता, जिसे 60 के दशक के मध्य के बाद कभी संशोधित नहीं किया गया है, में और संशोधन लाने के लिए वचनबद्धता वयक्त की गई है।

रोजगार के संबंध में, फैडरल मंत्री पैटी हायडू ने ट्रकिंग इंडस्ट्री के बारे में बयान जारी करते हुए कहा, “विशेष रूप से ट्रकिंग में, हमने नियोक्ताओं और कर्मचारियों दोनों की बात को सुना है कि गलत वर्गीकरण एक बड़ी चुनौती है और इससे असंतुलन और असमानता की भावना पैदा होती है। ’’

उन्होंने कहा, “हमारी कोशिश समान अवसर पैदा करना है।“

हायडू ने विस्तार करते हुए कहा कि ’’ज्यादातर कंपनी मालिक इस को नापसंद करते हैं क्योंकि इस से असल में ऐसे और मालिकों को मुकाबले में फायदा मिल रहा था जो लोगों को ’स्व-रोजगार प्राप्त’ के रूप में गलत वर्गीकृत करते थे।’’ दूसरी ओर, जब कर्मचारियों को स्व-रोजगार होने की लागत का भुगतान करना पड़ा है तब उनको पता लगने लगा है कि वास्तव में उनको कर्मचारी लाभ से वंचित किया जा रहा है। पहले उन्होंने सोचा कि उनके पास इस संरचना से कुछ लाभ हैं।

उन्होंने टरीलीयम रोडवेज के मिसिसॉगा कार्यालय में यह टिप्पणियां की जो यह स्वीकार करती है कि उस ने अपने 96 ड्राइवरों में से आधों को ही कर्मचारियों के रूप में रखा गया है।

ट्रिलियम के अध्यक्ष जसप्रीत समरा का कहना है कि ड्राइवर स्वयं ही इस भुगतान प्रणाली की मांग करते हैं, और वे इन सब को कर्मचारियों के रूप में रखना चाहते हैं।

एक स्वतंत्र व्यापारी के रूप में वर्गीकृत करने के इच्छुक ड्राइवरों की संख्या में वृद्धि पर उन्होंने कहा, “यह पूरी इंडस्ट्री की स्थिति है। हम दोनों प्रकार के प्रस्ताव पेश करते हैं। ’’

इस ढांचे को अपनाने की जरूरत पर बल देते हुए उन्होंने कहा, “हमारे लिए ड्राइवरों को लंबे समय तक रखना बहुत मुश्किल है।“

हायडू ने कहा कि ’’हम मानते हैं कि यह, ट्रकिंग क्षेत्र के लिए पक्षपातपूर्ण हो सकता है अगर कुछ लोग दूसरे से अलग नियमों पर चल रहे हैं।’’ उन्होंने कहा कि एक साल पहले इस स्थिति के बारे वुडस्टॉक में उद्योग परामर्श के दौरान पता चला था

शार्प ट्रांसपोर्टेशन सिस्टमस के शॉन बेयर्ड ने इस व्यापार मॉडल का लाभ उठा रहे फलीटस की निंदा की। उन्होंने यह भी कहा कि ड्राइवर इंक मॉडल का गलत प्रयोग करने वाली फलीटस ना सिर्फ करों से बच रहे हैं बल्कि स्वास्थ्य कर और डब्ल्यूएसआईबी भुगतान से भी बच रहे हैं।